ख़बर जहां, नज़र वहां

11 माह के भीतर 5 को उतारा मौत के घाट हत्यारा साइको किलर

Within 11 months, 5 killed in fierce assassin Saiko Killer
11 माह के भीतर 5 को उतारा मौत के घाट हत्यारा साइको किलर
छत्तीसगढ़ । एसपी ने बताया कि आरोपी भोपाल का रहने वाला है और वहां भी कई वारदात कर चुका है। ये नेचर से अपराधी है  हिस्ट्री शीटर साइको किलर ने धमतरी में महज 11 माह के भीतर 5 लोगों को मौत के घाट उतार दिया। इन दो बड़ी घटनाओं में एक युवती और एक विवाहिता के की डेड बॉडी के साथ इसने रेप भी किया। जब पुलिस आरोपी को घटना स्थल पर लाइव डेमो देने के लिए लेकर आई तो लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। 50 से ज्यादा पुलिस का जाब्ता लोगों को कंट्रोल करता रहा। लोगों ने कहा कि इस पापी को हमारे हवाले कर दो। हम देंगे इसे सजा।

शुक्रवार को 5 हत्याओं के आरोपी जितेन्द्र ध्रुव को पुलिस खपरी और तेलीनसत्ती स्थित उन मकानों में ले गई जहां उसने 11 माह के भीतर दो बड़ी घटनाओं को अंजाम दिया था।इसके बाद पुलिस को डेढ़ साल तक आरोपी छकाता रहा। पुलिस सुबह 10 बजे के करीब आरोपी को लेकर खपरी की ओर रवाना हुई।वहां आरोपी दीवार फांदकर मृतका रुक्मणी बाई पति मानसिंग बांडे (50 वर्ष) और उसकी बेटी पार्वती बांडे (20 वर्ष) के घर में दाखिल हुआ।आरोपी ने बताया कि उसका चक्कर पार्वती बांडे से था और अक्सर दोनों छुपकर मिला करते थे।16 अगस्त 216 की रात वो ऐसे ही घर में दाखिल हुआ। उसके आर आरोपी ने डेमो देते हुए बताया कि जैसे ही वो घर की बाड़ी में पहुंचा तो उस वक्त रुक्मणी बाई जाग गई और उसने आरोपी को देख लिया।इससे पहले कि वो चिल्लाती आरोपी ने पास रखे फावड़े से उसके सिर पर जोरदार वार कर दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई इसके बाद पार्वती आई। आरोपी ने घर में जाकर उसके साथ फिजिकल रिलेशन बनाया। इसके बाद पार्वती ने कहा कि उसने मां को क्यों मारा।आरोपी को लगा कि ये सबको बता देगी। ऐसे में उसे बातों में उलझाकर उसके सिर पर भी फावड़े से वार कर दिया।पार्वती की मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद उसने फिर एक बार उसकी डेड बॉडी के साथ फिजिकल रिलेशन बनाया। फिर आरोपी दीवार फांदकर बाहर आया और घर से 100 मीटर की दूरी पर पार्वती का मोबाइल फेंक दिया और खुद अपने घर चला गया।
तेलीनसत्ती मे दिया डेमो लाइव
 आरोपी का घर तेलीनसत्ती कांड के मृतक महेंद्र सिन्हा के घर से 100 मीटर की दूरी पर है। पुलिस वहां ले गई।आरोपी ने बताया कि घटना की रात 13 जुलाई 2017 को मृतक के बड़े भाई के घर पर फर्नीचर का काम चल रहा था।आरोपी दीवार के सहारे छत पर गया और वहां से फर्नीचर बनाने के औजार मृतक के घर के आंगन में फेंक दिया। फिर वो भी कूदा और दरवाजा खटखटाया। जैसे ही महेंद्र सिन्हा ने दरवाजा खोला आरोपी ने उसका मुंह दबा दिया और धारदार हथियार से उसके ऊपर वार कर दिया।वार करते ही वो लहूलुहान हो गया। महेंद्र को बचाने की उसकी पत्नी उषा सिन्हा आई तो उसने उसे भी धारदार हथियार से मारने के बाद सिर पर हथौड़े से मारकर मौत के घाट उतार दिया।आरोपी ने बताया कि उषा हथौड़े के वार से बेहोश हो गई थी। उसके बाद उसने उसके साथ फिजिकल रिलेशन बनाया और फिर मौत की नींद सुला दिया। दो बच्चे तो सो रहे थे उन्हें भी हथौड़े से मारा और उसके बाद घर की आलमारी खोल सारे जेवर निकालकर छत के रास्ते बाहर कूदकर अपने घर चला गया।
आरोपी को देखते ही लोगो ने की अपने आधार सजा देने की मांग 

लाइव डेमो के मौके पर महिलाएं भारी संख्या में आईं थीं। भीड़ से आरोपी को गाली दी जा रही थी।सभी में गुस्सा था। लोग कह रहे थे कि इसे हमारे हवाले कर दो। हम इसे सजा देंगे। इधर भीड़ को काबू में करने के लिए अर्जुनी थाना प्रभारी अपनी पूरी टीम के साथ, कोतवाली थाने की पूरी टीम, एसपी, एडिशनल एसपी, डीएसपी मौजूद थे।घटना स्थल को रस्सियों से घेरकर पुलिस का जाब्ता तैनात किया गया था।

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News