ख़बर जहां, नज़र वहां

चीन में कोरोना की उत्पत्ति की होगी दोबारा जांच, WHO ने बनाई नई कमेटी

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक टीम इस साल मार्च में भी चीन के वुहान शहर में चार हफ्तों तक रुक कर जांच की थी. लेकिन किसी पुख्ता नतीजे तक नहीं पहुंच पाई थी. जिसको लेकर इस बार विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चीन से शुरुआती मामलों से जुड़े आंकड़े उपलब्ध कराने को कहा है.
चीन में कोरोना की उत्पत्ति की होगी दोबारा जांच, WHO ने बनाई नई कमेटी

नई दिल्लीः कोरोना संक्रमण को लेकर चीन एक बार फिर कटघरे में है और यह सवाल आज भी मौजूद है कि कोरोना वायरस कहां से और कैसे फैला. जिसको लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन एक बार फिर से यह पता लगाने की कवायद में जुटा है. जानकारी के मुताबिक WHO ने 26 विशेषज्ञों का एक नया एडवाइजरी ग्रुप बनाया है. जो चीन में कोरोना की उत्पत्ति की जांच कर संगठन को रिपोर्ट सौंपेगा.

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक टीम इस साल मार्च में भी चीन के वुहान शहर में चार हफ्तों तक रुक कर जांच की थी. लेकिन किसी पुख्ता नतीजे तक नहीं पहुंच पाई थी. जिसको लेकर इस बार विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चीन से शुरुआती मामलों से जुड़े आंकड़े उपलब्ध कराने को कहा है. साथ ही WHO ने ये भी कहा है कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति के बारे में पता करने की ये आखिरी कोशिश हो सकती है.

आपको बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम ने पहली जांच के बाद इस साल मार्च में जारी रिपोर्ट में कहा था कि हो सकता है. कोरोना वायरस चमगादड़ से किसी दूसरे जानवर के जरिए इंसानों में पहुंचा हो. लेकिन अभी और रिसर्च की जरूरत है. क्योंकि महामारी के शुरुआती दिनों के डेटा की कमी के चलते जांच में दिक्कत आई थी. ऐसे में वुहान लैब का ऑडिट किया जाना चाहिए.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News