ख़बर जहां, नज़र वहां

सरकार ने किया सहायता राशि देने से इनकार, कहा- आंदोलन में हुईं मौतों का कोई रिकॉर्ड नहीं

राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने ‘आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों को वित्तीय सहायता और न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी पर चर्चा’ की मांग की थी और सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया था.
सरकार ने किया सहायता राशि देने से इनकार, कहा- आंदोलन में हुईं मौतों का कोई रिकॉर्ड नहीं

नई दिल्लीः संसद के शीतकालीन सत्र में सरकार ने किसान आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को सहायता राशि देने से इनकार कर दिया है. विपक्ष ने किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को वित्तीय सहायता देने की मांग की थी. जिस पर सरकार ने उत्तर देते हुए कहा कि आंदोलन में हुईं मौतों का कोई रिकॉर्ड नहीं है इसलिए सहायता नहीं जा सकती. सरकार ने कहा, ‘कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के पास इस मामले में कोई रिकॉर्ड नहीं है और इसलिए इसका सवाल ही नहीं उठता है.’

विपक्ष के नेताओं और विरोध कर रहे किसान संघों ने कहा है कि केंद्र के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ महीनों से चल रहे प्रदर्शनों के दौरान 700 से अधिक किसानों की जान चली गई. किसान संगठन लगातार मृतक किसानों के लिए मुआवजे की मांग कर रहे हैं.

राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने ‘आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों को वित्तीय सहायता और न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी पर चर्चा’ की मांग की थी और सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया था. सरकार का इसी पर जवाब आया है.  

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News