ख़बर जहां, नज़र वहां

मुज़फ्फरपुर में कोरोना से हाहाकार, 24 घंटे में आए इतने नए केस

जिले में लगातार कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. कोरोना संक्रमण प्रतिदिन नए आंकड़ों को छू रहा है. मुजफ्फरपुर जिले में रविवार को 2 हजार, 311 लोगों की जांच की गई, जिनमें 282 पॉजिटिव पाए गए.
मुज़फ्फरपुर में कोरोना से हाहाकार, 24 घंटे में आए इतने नए केस

मुज़फ़्फ़रपुर जिले में लगातार कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. कोरोना संक्रमण प्रतिदिन नए आंकड़ों को छू रहा है. मुजफ्फरपुर जिले में रविवार को 2 हजार, 311 लोगों की जांच की गई, जिनमें 282 पॉजिटिव पाए गए. इस तरह औसतन  हर आठवाँ व्यक्ति जाँच में पॉजिटिव निकला है. वही 548 करोना संक्रमित स्वस्थ होकर डिस्चार्ज भी हुए हैं लेकिन एक्टिव मामलों की संख्या अभी सरकारी आकड़ो के अनुसार 5 हजार,529 है.

वहीं, सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 1 मई को एसकेएमसीएच में 11 संक्रमितों की मौत हो गई, तो 2 मई को 18 संक्रमितों की जान चली गई. जिला प्रशासन के अनुसार, निजी अस्पतालों में तो कुल 10 मौत सामने आई. जानकारी के मुताबिक प्रसाद हॉस्पिटल में तीन,आईटी मेमोरियल में तीन, अशोका हॉस्पिटल में एक और माड़ीपुर कोविड केयर सेंटर में 3 संक्रमित व्यक्तियों की मौत हुई है.

वही, एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ. बी.एस. झा के जारी आंकड़ों के अनुसार वहां 34 मरीज रविवार को कोविड-19 पॉजिटिव भर्ती हुए हैं. इनमें 12 मरीज आईसीयू में एडमिट है। ऑक्सीजन के साथ और एक मरीज वेंटिलेटर पर है। कुल मिलाकर बीते 48 घंटे में मुजफ्फरपुर में करोना संक्रमण ने कहर बरपाया है और 51 लोगों की इस संक्रमण ने जान ले ली है. जिले में ऑक्सीजन की भी किल्लत है. जहां दो ऑक्सीजन प्लांट बेला और दामोदरपुर में चल रहे थे लेकिन दामोदरपुर से उत्पादन बाधित है. सिर्फ बेला से ही मुजफ्फरपुर और आसपास के जिलों में कोविड पॉजिटिव मरीजों का प्राणवायु ऑक्सीजन सप्लाई किया जा रहा है.

आपको बता दें कि बेला स्थित प्लांट से लगभग 800 सिलेंडर उत्पादन हो रहा है, जबकि एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ बीएस झा ने बताया है कि एसकेएमसीएच को 700 सिलेंडर प्रतिदिन चाहिए. इससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि मुजफ्फरपुर के अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत कैसी होगी.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News