ख़बर जहां, नज़र वहां

6 दिसंबर को होगी पुतिन और पीएम मोदी के बीच वन-टू-वन मीटिंग’, रक्षा सहित कई मुद्दों पर चर्चा संभव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6 दिसंबर को अपने लोक कल्याण मार्ग आवास पर डिनर के बाद रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ वन-टू-वन मीटिंग की मेजबानी करेंगे.
6 दिसंबर को होगी पुतिन और पीएम मोदी के बीच वन-टू-वन मीटिंग’, रक्षा सहित कई मुद्दों पर चर्चा संभव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6 दिसंबर को अपने लोक कल्याण मार्ग आवास पर डिनर के बाद रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ वन-टू-वन मीटिंग की मेजबानी करेंगे. इस मीटिंग का उद्देश्य क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर रणनीतिक स्थिरता को प्रभावित करने वाली नई चुनौतियों का सामना करना है. 5 अक्टूबर 2018 को अपनी पिछली दिल्ली यात्रा की तरह, राष्ट्रपति पुतिन एलकेएम निवास पर अफगानिस्तान, हिंद-प्रशांत क्षेत्र, रणनीतिक स्थिरता, जलवायु परिवर्तन, मध्य-पूर्व और आतंकवाद पर पीएम मोदी के साथ चर्चा पर ध्यान केंद्रित करेंगे. वहीं रक्षा, सुरक्षा सहित दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने को लेकर व्यापक चर्चा होने की संभावना है.

इस मुलाकात से चीन को झटका लग सकता है. रूस अगले महीने के मध्य तक भारत को एस-400 मिसाइल प्रणाली की पहली खेप की आपूर्ति करेगा. पहले से ही रूसियों के साथ एस-500 सिस्टम हासिल करने के लिए बातचीत की जा रही है. चीन ने दो एस-400 सिस्टम भारत की ओर और तीन बीजिंग की रक्षा के लिए पूर्वी तट की ओर तैनात किए हैं.

टू-प्लस-टू बातचीत की भी संभावना

पिछली बार पीएम आवास पर दोनों के बीच भारतीय व्यंजनों पर करीबी से चर्चा हुई थी. मीटिंग से पहले पूर्व दोनों पक्ष, टू प्लस टू, विदेश एवं रक्षा मंत्री स्तर की मास्को में उद्घाटन वार्ता कर सकते हैं, जिससे दोनों देशों के विशिष्ठ एवं विशेष सामरिक गठजोड़ के सम्पूर्ण आयामों को गति मिलने की उम्मीद है. दोनों पक्ष रक्षा, कारोबार और निवेश एवं विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में कई समझौते भी कर सकते हैं. शिखर बैठक में सैन्य तकनीकी सहयोग के नवीन ढांचे को कार्यरूप दिया जा सकता है, साथ ही विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में संयुक्त आयोग की घोषणा की जायेगी.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News