ख़बर जहां, नज़र वहां

संसद का मानसून सत्र 16 जून से हो सकता है आरंभ, तैयारियां जोरों पर

संसद का मानसून सत्र जुलाई में शुरू होगा और संसदीय समितियों का कामकाज 16 जून से शुरू होने की उम्मीद है.
संसद का मानसून सत्र 16 जून से हो सकता है आरंभ, तैयारियां जोरों पर

संसद का मानसून सत्र जुलाई में शुरू होगा और संसदीय समितियों का कामकाज 16 जून से शुरू होने की उम्मीद है. सरकार ने सत्र के दौरान पारित होने के लिए प्रमुख विधेयकों की रूपरेखा तैयार कर ली है. इनमें प्रमुख हवाई अड्डों को नामित करने के लिए एक विधेयक, माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण के लिए प्रस्तावित कानून, बाल संरक्षण प्रणाली को मजबूत करना और एक अंतरराज्यीय नदी जल विवाद निवारण समिति की स्थापना विधेयक शामिल हैं.

संसद के सामने 40 से अधिक विधेयकों और पांच अध्यादेशों के लंबित होने के कारण, मोदी सरकार का विधायी एजेंडा मानसून सत्र के लिए व्यस्त होना तय है, जोकि जुलाई में देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद शुरू होने वाला है. सरकारी अधिकारियों की योजना जुलाई में मानसून सत्र को शुरू करने की है, क्योंकि देश के कई हिस्सों में कोरोना के मामले घट रहे हैं. पिछले साल भी कोरोना संकट के चलते संसद का मानसून सत्र सितंबर में शुरू हुआ था. इसलिए संसद के तीन सत्रों में कटौती की गई और पिछले साल शीतकालीन सत्र को रद्द करना पड़ा था.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News