ख़बर जहां, नज़र वहां

इतिहास में 11 मई का दिन है बहुत खास, भारत ने इस मिशन को दिया था अंजाम

वर्ष 1988 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने 11 मई को राजस्थान के पोकरण में परमाणु परीक्षण कर दुनिया भर को चौंका दिया था. खासतौर पर अमेरिका और पाकिस्तान दंग रह गए थे.
इतिहास में 11 मई का दिन है बहुत खास, भारत ने इस मिशन को दिया था अंजाम

11 मई को धमाके ने दुनिया को चौंकायाः वर्ष 1988 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने 11 मई को राजस्थान के पोकरण में परमाणु परीक्षण कर दुनिया भर को चौंका दिया था. खासतौर पर अमेरिका और पाकिस्तान दंग रह गए थे. तब राजस्थान के पोकरण में तीन बमों का सफल परीक्षण किया गया था, जिसके ऐलान के बाद भारत न्यूक्लियर स्टेट बन गया.

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की अगुवाई में इस मिशन को दिया गया अंजाम

आपको बता दें कि डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की अगुवाई में इस मिशन को इतने गोपनीय तरीके से अंजाम दिया गया कि अमेरिका सहित दुनिया के किसी भी देश को इसकी भनक तक नहीं लगी. इस पूरी मुहिम में अहम भूमिका निभाने वालों में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, तत्कालीन रक्षामंत्री जॉर्ज फर्नांडीज और उस समय रक्षा मंत्रालय में वैज्ञानिक सलाहकार एपीजे अब्दुल कलाम थे.

परमाणु परीक्षण के बाद दुनिया भर में आया भूचाल

वहीं, परमाणु परीक्षण के बाद दुनिया भर में भूचाल आ गया और वाजपेयी सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गयी. संसद में इसका जवाब देते हुए वाजपेयी ने अपना इरादा साफ कर दिया- 'ये बदला हुआ भारत है जो दुनिया से आंख मिलाकर और हाथ मिलाकर चलना चाहता है. यह किसी प्रतिबंध से झुकेगा नहीं और शांति व सुरक्षा के लिए परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करेगा.' इससे पूर्व 18 मई 1974 को इंदिरा गांधी की सरकार ने पहला परमाणु परीक्षण किया था जिसे पोकरण-वन के नाम से जाना जाता है. इसे 'स्माइलिंग बुद्धा' का नाम दिया गया था.

कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं-

1752- अमेरिका के फिलाडेल्फिया में अग्नि बीमा पॉलिसी की शुरुआत.

1784- अंग्रेजों और मैसूर के शासक टीपू सुल्तान के बीच संधि.

1940- ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग सर्विस की हिंदी सेवा की शुरुआत.

1951- राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने नवनिर्मित सोमनाथ मंदिर का उद्घाटन किया.

1962- सर्वपल्ली राधाकृष्णन को भारत का राष्ट्रपति बनाया गया. उन्होंने पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद का स्थान लिया.

1988- फ्रांस ने परमाणु परीक्षण किया.

1995- अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में 170 से अधिक देशों ने परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर किए.

2000- जनसंख्या घड़ी के मुताबिक भारत की जनसंख्या एक अरब पहुंच गयी.

Leave Your Comment
Related News