ख़बर जहां, नज़र वहां

भारत में बनी कोरोना वैक्सीन यूके वेरियंट पर भी प्रभावी

भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) की ओर से विकसित की गई इस वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजे के अनुसार यह न केवल 81 प्रतिशत प्रभावी है, बल्‍क‍ि वायरस के यूके वेरियंट पर भी प्रभावी है.
भारत में बनी कोरोना वैक्सीन यूके वेरियंट पर भी प्रभावी

नई दिल्ली: भारत में जब कोरोना वैक्सीनेशन के तहत लोगों को कोविशील्ड और भारत बायोटेक के स्वदेशी कोवैक्सीन को दी जा रही है. कोरोना की स्थिति को देखते हुए वैक्‍सीन के शुरुआती ट्रायल के नतीजों के आधार पर मंजूरी दी गई थी. अब तीसरे क्लीनिकल ट्रायल के आगे के परिणाम भी आ गये हैं, जिनमें पाया गया है कि कोवैक्सीन 81 प्रतिशत तक प्रभावी है.

भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) की ओर से विकसित की गई इस वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के नतीजे के अनुसार यह न केवल 81 प्रतिशत प्रभावी है, बल्‍क‍ि वायरस के यूके वेरियंट पर भी प्रभावी है. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी कोवैक्सीन की दी गई थी.

विपक्षी नेताओं ने को-वैक्सीन पर उठाये थे ये सवाल

अखिलेश यादव ने कहा था कि हम तो यह वैक्सीन नहीं लगवाएंगे क्योंकि यह बीजेपी की वैक्सीन है. इस वैक्सीन पर भरोसा नहीं है.

वहीं, कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा था कि वैक्सीन के प्रति भरोसा पैदा करने के लिए सबसे पहले यह वैक्सीन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लगवानी चाहिए. साथ ही कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा था कि कोवैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल अभी तक पूरा भी नहीं हुआ है और सरकार ने बिना सोचे समझे इसे मंजूरी दे दी है, ये खतरनाक हो सकता है

कुल मिलाकर देखा जाए तो तीसरे चरण के परणिाम ने सभी विपक्षी नेताओं के मुंह बंद कर दिये हैं।

भारत बायोटेक ने कहा है, "नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी से विश्लेषण से संकेत मिलता है कि वैक्सीन-प्रेरित एंटीबॉडी यूके के वेरियंट और अन्य वेरियंट को बेअसर कर सकता हैं."

कंपनी ने कहा है कि तीसरे चरण के ट्रायल में 18 से 98 वर्ष की आयु के 25,800 लोगों को शामिल किया गया था. इनमें से, 2,433 लोग 60 वर्ष से अधिक आयु के थे और 4,500 कॉमरेडिटीज (गंभीर बीमारी के लक्षण वाले लोग) थे. भारत बायोटेक के अनुसार, यह भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के सहयोग से भारत में अब तक का सबसे बड़ा क्लिनिकल ट्रायल था.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News