ख़बर जहां, नज़र वहां

सुंदर होने का मतलब सिर्फ गोरा होना नहीं “कंगना रनौत

कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती हैं. हाल ही में उन्होंने बताया कि बॉलीवुड में गोरे रंग की एक्ट्रेस को ज्यादा पसंद किया जाता है. उन्होंने कहा कि वह अपने रंग के बदौलत इंडस्ट्री में कुछ साल बनी रह सकती थीं, लेकिन खुद को उससे ज्यादा साबित करने का फैसला लिया.
सुंदर होने का मतलब सिर्फ गोरा होना नहीं “कंगना रनौत

कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहती हैं. हाल ही में उन्होंने बताया कि बॉलीवुड में गोरे रंग की एक्ट्रेस को ज्यादा पसंद किया जाता है. उन्होंने कहा कि वह अपने रंग के बदौलत इंडस्ट्री में कुछ साल बनी रह सकती थीं, लेकिन खुद को उससे ज्यादा साबित करने का फैसला लिया.

पहचान बनाने के लिए किया संघर्ष

 इंटरव्यू के दौरान कंगना ने कहा, 'मैंने अपनी खुद की जगह बनाने की कोशिश की और यह बड़ा संघर्ष था. मुझे जो परोसा जा रहा था अगर मैं वही करती रहती तो मुझे नहीं लगता कि यहां तक आ पाती. उनके लिए सुंदर होने का मतलब गोरा होना है. मैं बहुत गोरी थी और मैं 3-4 साल यहां टिकी रह सकती थी, जो कि कोई भी गोरा इंसान कर सकता है.

कंगना  का 2013 का बयान

कंगना आगे कहती हैं, 'एक इंसान के तौर पर मुझमें बहुत कुछ था और मैं हैरान थी कि किसी को इसकी परवाह नहीं. इससे पहले कंगना ने 2013 में कहा था, बचपन से ही मुझे फेयरनेस का कॉन्सेप्ट समझ नहीं समझ आया… खासतौर पर एक सिलेब्रिटी के तौर पर, मैं युवाओं के सामने क्या उदाहरण रख रही हूं? 

बहन का दिया उदहारण

कंगना ने अपनी बहन का उदहारण देते हुए बताया कहा, 'मेरी बहन रंगोली सावंली है, फिर भी खूबसूरत है. अगर मैं गोरेपन के कैंपेन का हिस्सा बनूं तो एक तरह से उसकी इंसल्ट होगी. अगर मैं अपनी बहन के साथ ऐसा नहीं कर सकती तो पूरे राष्ट्र के साथ कैसे कर सकती हूं.'बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत जितनी बेबाक हैं उतनी ही अपनी बेहतर सेहत को लेकर गंभीर भी.

Leave Your Comment
Most Viewed
Related News