ख़बर जहां, नज़र वहां

चमोली में वैक्सीन न मिलने से 18 प्लस का टीकाकरण ठप

चमोली जिले में 18 से 44 आयु वर्ग के लिये किया जा रहा टीकाकरण वैक्सीन की सप्लाई न होने के कारण बंद हो गया है. जहां चमोली जिले में 18 से 44 वर्ष के एक लाख 68 हजार 113 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.
चमोली में वैक्सीन न मिलने से 18 प्लस का टीकाकरण ठप

गोपेश्वरः चमोली जिले में 18 से 44 आयु वर्ग के लिये किया जा रहा टीकाकरण वैक्सीन की सप्लाई न होने के कारण बंद हो गया है. जहां चमोली जिले में 18 से 44 वर्ष के एक लाख 68 हजार 113 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. इसके लिये जिला मुख्यालय सहित नौ केंद्र स्थापित किये गये हैं. 10 मई से टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था. 23 दिनों तक चले टीकाकरण अभियान में स्वास्थ्य विभाग की ओर से 15 हजार 460 लोगों का टीकाकरण किया गया. वैक्सीन खत्म होने के बाद बीते सोमवार से जिले में टीकाकरण अभियान बंद हो गया है.

हालांकि 45 वर्ष से अधिक आयु के टीकाकरण अभियान में स्वास्थ्य विभाग की ओर से 95 हजार 236 लोगों के सापेक्ष 88 हजार 992 लोगों का टीकाकरण कर लिया गया है. वहीं 45 वर्ष से अधिक के लोगों के लिये जहां स्वास्थ्य विभाग के पास 1270 डोज शेष हैं. छह हजार डोज मंगवाई गई है. जबकि विभाग की ओर से 18 से 44 वर्ष की आयु के टीककारण के लिये राज्य सरकार से मांग की गई है.

आपको बता दें कि प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी, चमोली डा. एमएस खाती का कहना है कि 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को भारत सरकार से मिल रही वैक्सीन का कार्य सुचारु रुप से किया जा रहा है. जिले में 45 वर्ष से अधिक आयु के 93.4 फीसदी आबादी का टीकाकरण कर लिया गया है. जबकि 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को 9.2 फीसदी टीकाकरण किया गया है. 18 से 44 आयु वर्ग के शेष लोगों के टीकाकरण के लिये राज्य सरकार से मांग की गई है. वैक्सीन उपलब्ध होते ही पुनः टीकाकरण शुरु कर दिया जाएगा.

Leave Your Comment
Related News