ख़बर जहां, नज़र वहां

70 साल के इतिहास में पहली बार देश में एकीकृत कर व्यवस्था GST लागू की गई -पीएम नरेन्द्र मोदी

Indian PM Narendra Modi inaugurates IOHZIT 48th World Human Economic Forum in Davos, Switzerland
70 साल के इतिहास में पहली बार देश  में एकीकृत कर व्यवस्था GST लागू की गई -पीएम नरेन्द्र मोदी


स्विट्जरलैंड के दावोस में आ‍योजित 48वें वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम की शुरुआत भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण से हुई। पीएम मोदी ने कहा, 1997 में चिड़िया ट्वीट करती थी, अब मनुष्‍य करते हैं. तब अगर आप अमेजन इंटरनेट पे डालते तो नदियां और जंगल की तस्‍वीर आती. उन्‍होंने कहा, पिछली बार 1997 में भारतीय पीएम एचडी देवगौड़ा दावोस आए थे उस वक्‍त हमारा जीडीपी 400 बिलियन डॉलर से थोड़ा ज्‍यादा था. अब हमारी जीडीपी छह गुना से भी ज्‍यादा है.

पीएम मोदी ने जोर देते हुए कहा कि तकनीक ने दुनिया को बदला है. उन्‍होंने कहा आज डाटा सबसे बड़ी संपदा है. डाटा के वैश्विक संचार से सबसे बड़े अवसर बन रहे हैं और सबसे बड़ी चुनौतियां भी. उन्होंने कहा कि हमारे सामने कई महत्वपूर्ण सवाल हैं. वो कौन सी शक्तियां हैं, जो दुनिया में सामंजस्य की जगह अलगाव चाहतीं है?

पीएम मोदी ने जोर देते हुए कहा कि भारत हमेशा से वसुधैव कुटुम्बकम के मंत्र में विश्‍वास करता है, जिसका मतलब होता है कि पूरी दुनिया एक परिवार है और दूरियों को दूर करने के लिए यह अब भी प्रासंगिक है.

पीएम मोदी ने कहा कि मानवता के लिए तीन महत्वपूर्ण चुनौतियां हैं। इनमें जलवायु परिवर्तन एक बहुत बड़ी चुनौती है। जलवायु परिवर्तन को नियंत्रित करने के लिए मिलकर काम करने की जरूरत है। पीएम मोदी ने कहा कि मानव धरती की संतान है, फिर धरती के साथ ही ऐसा बर्ताव क्यों? संसाधनों को जरूरत के हिसाब से उपयोग करना चाहिए। लालच की पूर्ति के लिए संसाधनों का उपभोग सही नहीं है। महात्‍मा गांधी भी इसके विरोध में थे। हम प्राकृतिक संसाधनों का शोषण कर रहे हैं। हमें अपने आप से यह सवाल पूछने की जरूरत है कि क्‍या हम विकास की तरफ बढ़ रहे हैं या पीछे जा रहे हैं।आतंकवाद के मुद्दे पर भी पीएम मोदी बोले। उन्‍होंने कहा कि यह एक बड़ा खतरा है और उस वक्‍त और भी ज्‍यादा जब कोई आपको अच्‍छे आतंकवाद और बुरे आतंकवाद की परिभाषा देता है। इस बार यह सम्‍मेलन कई मामलों में भारत के लिए भी बेहद खास होने वाला है। पीएम मोदी ने दावोस से एक बार फिर पूरी दुनिया को संदेश देते हुए कहा है कि भारत का मतलब बिजनेस है और सभी के लिए इसके दरवाजे खुले हुए हैं।

पीएम मोदी मंगलवार शाम दावोस पहुंचे और रात्रि भोज पर दुनियाभर के कारोबारियों और मुख्‍य कार्यकारी अधिकारियों को भारत में कारोबार के सुनहरे अवसरों  से अवगत कराया.

पीएम मोदी दावोस की बर्फीली वादियों में मौसम का लुत्‍फ उठाते भी नजर आए। उन्‍होंने दावोस से अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है जिसमें वह बर्फबारी का आनंद उठाते हुए दिख रहे हैं. पीएम मोदी ने तस्‍वीर के साथ लिखा, 'वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में हिस्सा लेने के लिए स्विटजरलैंड में हूं, जहां मैं विश्व के नेताओं, कारोबार के क्षेत्र के विशेषज्ञों से मुलाकात करूंगा. मैं भारत में विभिन्न आर्थिक संभावनाओं के बारे में चर्चा करूंगा.'

वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम स्विट्जरलैंड की गैर लाभकारी संस्था है. इसका मकसद बिजनेस, राजनीति, शैक्षिकव अन्य क्षेत्रों के वैश्विक नेताओं व अग्रणी लोगों को एक साथ लाकर वैश्विक, क्षेत्रीय और औद्योगिक दिशा तय करना है. इसका गठन 1971 में हुआ था.

 

Leave Your Comment
Related News