योगी ने ठुकराई राजभर ​की पेशकश, अब करेंगे शाह से मुलाकात

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर की विभाग वापस लेने की पेशकश ठुकरा दी है और शुक्रवार रात उनसे मुलाकात कर उनकी मांगों पर चर्चा की। आपको बता दें कि राजभर ने पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग का प्रभार मुख्यमंत्री को लौटा दिया था और चेतावनी दी थी कि अगर 24 फरवरी तक उनकी मांगों को नहीं माना गया तो वह भाजपा से अलग रास्ता चुन सकते हैं। वह कई बार प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारने की बात कह चुके हैं। शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी ने राजभर से मुलाकात की और उनकी शिकायतों को ध्यान से सुना।

राजभर ने मुख्यमंत्री के सामने पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति के मद में कम बजट जारी करने, पिछड़ों के आरक्षण प्रतिशत (27 प्रतिशत) को तीन हिस्सों में बांटने के लिए सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू करने और पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन में उनके द्वारा दी गई सूची से एक भी नाम शामिल नहीं करने का मुद्दा उठाया। मुख्यमंत्री योगी ने राजभर की बातों को ध्यान से सुना और उन्हें समझाने का प्रयास किया। अब 19 फरवरी को राजभर की मुलाकात भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से होगी। उम्मीद की जा रही है कि इस मुलाकात में मामले का कुछ हल निकल सकता है।

Leave a comment