उत्पीड़न से तंग आकर महिला ने की आत्महत्या, ससुराल वालों पर लगाया आरोप..

सूरत: गुजरात के सूरत से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक महिला डॉक्टर ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि महिला ने उत्पीड़न से तंग आकर ये खौफनाक कदम उठाया है। पुलिस ने उसके कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें मरने से पहले विवाहिता डॉक्टर ने लिखा था कि उसका पति उसके शव को हाथ भी न लगाए और न ही वो उसके अंतिस संस्कार में भाग ले। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह वारदात सूरत के अडाजण थाना इलाके की है। जहां रहने वाली 29 वर्षीय डॉक्टर मनाली पटेल की शादी 6 साल पहले डॉक्टर चिंतन पटेल के साथ हुई थी। वह अपने पति के साथ शिवकुटीर इलाके में रहती थी। वह खुद केपी संघनी अस्पताल में काम करती थी, जबकि उसका पति डॉ. चिंतन पालनपुर के एक दूसरे अस्पताल में काम कर रहा था। दोनों के बीच काफी दिनों से रिश्ते में तनाव था।

जानकारी के अनुसार डॉ. मनाली के ससुराल वाले उसे बहुत परेशान करते थे। आये दिन उसका मानसिक शोषण होता था। वे लगातार उस पर तलाक का दबाव बना रहे थे। इससे मनाली काफी टूट चुकी थी। बीते शुक्रवार की देर शाम मनाली ने अपने कमरे में छत के पंखे से फांसी लगाकर जान दे दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और उसकी लाश को नीचे उतारा। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर मनाली के कमरे की तलाशी ली तो वहां से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ। जिसमें डॉ. मनाली ने आपबीती लिखी थी। पुलिस ने पंचनामे की कार्रवाई के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। डॉ. मनाली के परिजनों ने बताया कि मनाली ने मरने पहले अपना सुसाइड नोट अपने भाई के फोन पर भी वॉट्सएप किया था। लेकिन उसका फोन बंद होने की वजह से वो उसे देख नहीं पाया। पुलिस ने डॉक्टर मनाली का फोन भी कब्जे में ले लिया है। इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

Leave a comment