शाहीन बाग को कौन कर रहा है फंडिंग? केंद्र, राज्य सरकार और दिल्ली पुलिस को हाईकोर्ट का नोटिस

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में फैली हिंसा से जुड़ी याचिकाओं पर आज दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई की गई. सुनवाई के दौरान नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग समेत अन्य 8 स्थानों पर किए जा रहे प्रदर्शन पर दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया गया है. हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए याचिकाकर्ता ने अपील की थी कि इन धरनों की फंडिंग कौन कर रहा है, इस मामले की जांच की जानी चाहिए? इस मामले कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी नोटिस जारी किया गया है.

दिल्ली हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पटेल की अगुवाई वाली बेंच इस पूरे मामले की सुनवाई कर रही है. सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता अजय गौतम ने कहा कि इन प्रदर्शन की वजह से दिल्ली के लोगों को खासी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस, दिल्ली सरकार, केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है और 30 अप्रैल तक जवाब देने को कहा है.

इस दौरान दिल्ली हाईकोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और वारिस पठान द्वारा दिए गए बयानों पर भी सुनवाई की. याचिकाकर्ता ने इन नेताओं पर दिल्ली चुनाव के दौरान भड़काऊ बयान देने का आरोप लगाया है. याचिकाकर्ता ने कहा कि इन नेताओं ने भड़काऊ बयान दिया और लोगों को उकसाया. इस मामले पर अगली सुनवाई अब 13 अप्रैल को होगी.

Leave a comment