आतंकियों की बातचीत हुई रिकॉर्ड, बोले- हम पहुंच गए हैं, दो तीन दिन में अपनी जगह पहुंच जाएंगे

जम्मू शहर के सतवारी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मकवाल बॉर्डर से आतंकी घुसपैठ हो सकती है। प्रतिबंधित संगठन जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों का दल बॉर्डर पर घात लगाकर तैयार है। जो अगले दो से तीन दिन के भीतर घुसपैठ कर सकता है। इनके निशाने पर जम्मू एयरपोर्ट और एयरफोर्स स्टेशन हो सकते हैं। पास में ही सेना का अस्पताल और सैन्य कैंप भी इसके निशाने पर हो सकते हैं। तीन से चार आतंकियों की बातचीत मकवाल बॉर्डर के पास रिकॉर्ड की गई है।सूत्रों का कहना है कि रविवार की रात करीब डेढ़ बजे तीन आतंकियों की बातों को इंटरसेप्ट किया गया। आतंकी आपस में बात कर रहे थे कि हम पहुंच गए हैं, दो तीन दिन में अपनी जगह पहुंच जाएंगे। बता दें कि मकवाल बॉर्डर जम्मू से सिर्फ छह सात किलोमीटर दूर है।

जबकि एयरपोर्ट, एयरफोर्स स्टेशन, सैन्य अस्पताल और सैन्य कैंप तीन से चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। मकवाल बॉर्डर से निक्की तवी का एरिया जुड़ा हुआ है। जो पाकिस्तान के साथ है। निक्की तवी पाकिस्तान में जाती है। आतंकी मकवाल बॉर्डर से घुसपैठ कर निक्की तवी से उक्त जगहों पर पहुंच सकते हैं।आतंकियों की बातचीत सुने जाने के बाद बॉर्डर पर अलर्ट किया गया है। इस बॉर्डर पर सेना के साथ बीएसएफ भी है। बता दें कि लगातार आतंकियों की घुसपैठ के इनपुट आ रहे हैं। पुलवामा हमले के बाद आतंकी कश्मीर सहित अन्य जगहों पर कोई बड़ा हमला नहीं कर पाए हैं। जिससे आतंकी संगठन और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई बुरी तरह से बौखलाई हुई है। यहीं कारण है कि आतंकियों पर लगातार घुसपैठ का दबाव बढ़ाया जा रहा है।

Leave a comment