अपने क्षेत्र की जनता के बीच रहेंगी स्मृति ईरानी, अमेठी में बनवाएंगी घर

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी लोकसभा चुनाव में अमेठी से मिली शानदार जीत के बाद अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचीं थीं. शनिवार को उन्होंने एक ऐसी घोषणा की जिसकी चर्चा हर तरफ हो रही है. उन्होंने ऐलान किया कि वे अमेठी में अपना घर बनवाएंगी. 15 साल तक सांसद रहने बाद भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां पर अपना घर नहीं बनवाया.

स्मृति ईरानी ने अमेठी में घर बनाने की घोषणा उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम और PWD मंत्री केशव प्रसाद मौर्या के उपस्थिति में की. केंद्रीय मंत्री ने गौरीगंज में अपने घर के लिए प्लॉट भी देख ली हैं. उन्होंने कहा, 'अमेठी में अब मेरा स्थायी घर होगा और यह सबके लिए खुला रहेगा. अब मैं यहां कि अतिथि नहीं रहूंगी.'

राहुल गांधी अमेठी से पहली बार 2004 में चुनकर लोकसभा पहुंचे थे. राहुल 2019 तक, यानी 15 साल यहां के प्रतिनिधि रहे. इससे पहले 1999 में यहां से सोनिया गांधी को जीत मिली थी. इतने समय तक इस सीट का प्रतिनिधित्व करने के बाद भी गांधी परिवार ने यहां पर अपने लिए कोई स्थायी घर नहीं बनवाया था. वे यहां आने पर गेस्ट हाउस में रहा करते थे.

अमेठी में स्मृति ईरानी के घर बनवाने के फैसले से ये साफ हो रहा है कि वे इस क्षेत्र से अपना लगाव लंबे समय तक बनाए रखना चाहती हैं. घर बनाने के ऐलान के अलावा केंद्रीय मंत्री ने अमेठी के लिए कई अन्य योजनाओं की भी घोषणा की.

Leave a comment