शुरुआती कारोबार में Sensex में दिखी 100 अंकों से ज्यादा की उछाल, Nifty 10,800 के पार

मुंबई: बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स बुधवार को कारोबार के शुरुआती दौर में 100 अंक से अधिक बढ़कर 36,775.60 अंक पर पहुंच गया. इस दौरान विदेशी मुद्रा प्रवाह जारी रहने और लिवाली निकलने से एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईटीसी के शेयरों में बढ़त दर्ज की गई.

 

बीएसई का 30 कंपनी शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक कारोबार के शुरुआती दौर में 101.08 अंक यानी 0.28 प्रतिशत ऊंचा रहकर 36,775.60 अंक पर पहुंच गया. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी सूचकांक 34.60 अंक यानी 0.32 प्रतिशत बढ़कर 10,834.25 अंक पर पहुंच गया. बढ़त पाने वाले शेयरों में इंडसइंड सबसे ज्यादा लाभ वाले शेयरों में रहा.

 

स्टेट बैंक, टाटा स्टील, बजाज आटो समेत अन्य शेयरों में हुई बढ़त

इसका शेयर चार प्रतिशत तेजी में रहा. इसके बाद स्टेट बैंक, टाटा स्टील, बजाज आटो, आईटीसी, एचडीएफसी और एचडीएफसी बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में तेजी का रुख रहा. इसके विपरीत इन्फोसिस, एचसीएल टेक, अल्ट्रा टेक सीमेंट, मारुति और एक्सिस बैंक के शेयरों में गिरावट का रुख रहा. इससे पहले मंगलवार को बीएसई सेंसेक्स 187.24 अंक बढ़कर 36,674.52 अंक और एनएसई का निफ्टी 36 अंक यानी 0.33 प्रतिशत बढ़कर 10,799.65 अंक पर बंद हुआ.

 

दुनिया भर में कोरोना मामले 1.17 करोड़ के पार

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को बाजार में 829.90 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की. हालांकि, देश दुनिया में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर चिंता ने बाजार की तेजी पर लगाम लगा दी. पूरी दुनिया में कोविड- 19 से संक्रमित मामलों की संख्या 1.17 करोड़ के पार चली गई है जबकि मरने वालों का आंकड़ा 5.43 लाख पर पहुंच गया है. भारत में कोविड- 19 से संक्रमित लोगों की संख्या 7.42 लाख हो गई है जबकि 20,642 लोगों की इससे मौत हो गई. कोरोना वायरस के संक्रमितों के बढ़ते आंकड़ों से निवेशकों में चिंता है.

 

टोक्यो और सोल के बाजार में गिरावट

 

शंघाई और हांग कांग के बाजारों में बाजार तेजी में रहे वहीं टोक्यो और सोल के बाजार गिरावट में रहे. वॉल स्ट्रीट का बाजार कल गिरावट में बंद हुआ. इस बीच अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड तेल का वायदा भाव 0.16 प्रतिशत गिरकर 43.01 डालर प्रति बैरल रहा.

Leave a comment