रूस के राष्ट्रपति पुतिन का साथ, कहा- दोषियों को कठोर सज़ा मिलनी चाहिए

नई दिल्ली: जब पूरी दुनिया कल प्यार का जश्न मना रही थी तब पाकिस्तान स्थित आतंकी मसूद अजहर ने भारत के ख़िलाफ़ नफरत का ऐसा ज़हर उगला की देश हिलकर रह गया। इस आतंकी सरगना के एक प्यादे ने एक हमले में 37 CRPF जवानों की जान ले ली। इस हमले से देश में बेहद गुस्सा है और देश इस इंतज़ार में है कि सरकार इस पर क्या प्रतिक्रिया देने वाली है। इस दौरान पूरी दुनिया से मिल रहे समर्थन के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कि हमले के । जम्मु-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से ये बातें कही हैं। उन्होंने कहा, कृपा करके मेरी संवेदनाओं को स्वीकार करें। हम इस घिनौने अपराध की कड़ी निंदा करते है। पुतिन ने कहा कि इस हमले के अपराधियों और प्रायोजकों को निश्चित रूप से कठोर सज़ा दी जानी चाहिए।

आपको बता दें कि रक्षा मामले में रूस भारत का सबसे मज़बूत साथी रहा है। लेकिन भारत की अमेरिका से बढ़ती नज़दीकियों की वजह से बीते दिनों में रूस काफी हद तक पाकिस्तान के करीब गया है। इसके तहत बीते सालों में पहली बार रूस पाकिस्तान को अपना मिलिट्री हार्डवेयर बेचने को तैयार हुआ है। आपको बता दें कि भारत का ये सबसे बड़ा मित्र देश पाक में भारी निवेश भी करने वाला है। नकदी संकट से जूझ रहे पाकिस्तान में ऊर्जा क्षेत्र में रूस 14 अरब डॉलर (9,99,39,00,00,000 रुपए) का एकमुश्त निवेश करने वाला है।

Leave a comment