JioMart पर रिलायंस ने आगे बढ़ाया कदम, किराना दुकानदारों की तरक्की का दावा

रिलायंस की 43वीं आमसभा (AGM) में देश के किराना कारोबार को लेकर भी महत्वपूर्ण ऐलान किया गया. कंपनी ने कहा कि जियोमार्ट (JioMart) और वाट्सऐप मिलकर देश के किराना दुकानदारों के लिए तरक्की के नए अवसर तैयार करेंगे.

गौरतलब है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ग्राहकों और किराना दुकानदारों के लिए जियोमार्ट के नाम से उच्च टेक्नोलॉजी से लैस एक प्लेटफॉर्म तैयार किया है. कंपनी ने पिछले साल ही एजीएम में इसकी शुरुआत की घोषणा की थी. इसके अगले चरण की घोषणा करते हुए ईशा अंबानी ने कहा कि जियोमार्ट अब एक मल्टीपरपज प्वाइंट ऑफ सर्विस (POS) से लैस है जिसके द्वारा दुकानों और उनके ग्राहकों के बीच सहज लेनदेन संभव हो सकेगा.

रिलायंस ने इस अवसर पर एक वीडियो भी दिखाया कि किस तरह से रिलायंस जियोमार्ट से टाइअप करने वाले किराना दुकानों का कायापलट कर 48 घंटे में ही उसे सेल्फ सर्विस मिनी स्टोर में बदल दिया जाता है.

दुकानदारों को क्या फायदा

ईशा अंबानी ने कहा, 'जियोमार्ट और वाट्सऐप मिलकर देश के करोड़ों छोटे दुकानदारों के लिए अवसर तैयार कर रहे हैं और ग्राहक भी इससे किराना दुकानों से बिना किसी अड़चन के लेनदेन कर सकेंगे.' असल में इस सिस्टम से एक तो दुकानदार तकनीकी रूप से ज्यादा मजबूत हो जाएंगे और दूसरे उनका आसपास के ग्राहकों से संपर्क भी हमेशा बना रहेगा.

कैसे काम करता है जियोमार्ट

जियोमार्ट ग्राहकों और उनके आसपास के दुकानों के बीच एक एग्रीगेटर की तरह काम करता है जैसे कि बाकी ई-कॉमर्स कंपनियां एग्रीगेटर का काम करती हैं.

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स ने देश के करोड़ों उपभोक्ताओं को हासिल करने के लिए अलग तरह का मॉडल बनाया है. उसने किसी बड़े स्टोर खोलने या सप्लायर को जोड़ने की जगह देश के करीब 7 करोड़ खुदरा दुकानदारों को जोड़ने की योजना बनाई है. जियोमार्ट ने ऐसे छोटे-छोटे दुकानदारों को वाट्सऐप के माध्यम से जोड़ने की योजना बनाई है. रिलायंस का वाट्सऐप से समझौता है तो उसके लिए यह आसान भी होगा. ग्राहक घर बैठे आसानी से वाट्सऐप के द्वारा अपने आसपास नेबरहुड स्टोर्स से ऑर्डर कर सकेंगे. हालांकि अभी जियोमार्ट की वेबसाइट से ही हो रहा है और कुछ ही जगहों पर वाट्सऐप सर्विस ट्रायल के रूप में है, लेकिन कंपनी आगे चलकर बड़े पैमाने पर इसे करने वाली है.

Leave a comment