मुंबई में लगातार जारी है विरोध प्रदर्शन

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए काटे जा रहे आरे कालोनी में पेड़ों का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. जहां सर्वोच्च अदालत में आज पेड़ों के काटे जाने के खिलाफ याचिका पर सुनवाई होनी है. वहीं पिछले एक हफ्ते से इस मामले पर मुंबई की सड़कों पर प्रदर्शन हो रहा है, कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार भी किया गया है. दरसल बॉम्बे हाईकोर्ट की ओर से 2,646 पेड़ों को काटने की इजाजत मिली थी. महाराष्ट्र में इसी महीने चुनाव होने हैं ऐसे में मुंबई में इस मसले ने राजनीतिक मोड़ भी ले लिया है. जहां शिवसेना सत्ता में होने के बावजूद इस मसले पर विपक्ष की भूमिका निभा रही है और लगातार प्रदर्शन कर रही है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का कहना है कि पेड़ों को काटने वालों को वह सरकार में आने के बाद देख लेंगे, तो वहीं आदित्य ठाकरे ने इसके लिए मुंबई मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन को जिम्मेदार ठहराया है.

Leave a comment