भाजपा-कांग्रेस के 83 फीसदी से ज्यादा प्रत्याशी करोड़पति

2019 का लोकसभा चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों पर निगाह डालें तो चौंकाने वाले आंकड़ें सामने आते हैं.  इंडिया टुडे डाटा इं​टेलीजेंस यूनिट (DIU) ने सभी प्रत्याशियों के हलफनामे के आधार पर एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) के आंकड़ों का विश्लेषण किया तो सामने आया कि चुनाव लड़ रहे सभी प्रत्याशियों में 30 फीसदी के पास एक करोड़ से ज्यादा की सम्पत्ति है.

इस चुनाव में सबसे ज्यादा करोड़पतियों को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मैदान में उतारा है. बीजेपी ने 363 करो​ड़पतियों को टिकट दिए हैं. दूसरा नंबर कांग्रेस का है, जिसने कुल 349 करो​ड़पतियों को टिकट बांटे हैं. मायावती की बसपा ने 129 करोड़पतियों को टिकट दिया है.

सबसे अमीर कौन?

संख्या के मामले में भाजपा, कांग्रेस और बसपा ने सबसे ज्यादा करोड़पतियों को टिकट दिया है, लेकिन अगर प्रतिशत की बात करें तो कई पार्टियां हैं जो इन तीनों को पीछे छोड़ रही हैं. हमारी पड़ताल में सामने आया कि तीन ऐसी पार्टियां हैं जिन्होंने सिर्फ करोड़​पतियों को टिकट दिए हैं. आंध्र प्रदेश की तेलुगु देशम पार्टी (TDP), पंजाब की शिरोमणि अकाली दल (SAD) और तमिलनाडु की आल इंडिया द्रविड़ मुनेत्र कझगम (AIADMK) के सभी प्रत्याशियों की संपत्ति एक करोड़ से ज्यादा है.

इन तीन पार्टियों के बाद नंबर आता है तमिलनाडु की ही पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कझगम (DMK) का, जिसके 96 फीसदी प्रत्याशी करोड़पति हैं. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने भी 90.4 फीसदी करोड़पति प्रत्याशी उतारे हैं. आंध्र प्रदेश की वाईएसआर कांग्रेस के 88 फीसदी प्रत्याशी करोड़पति हैं. भाजपा के कुल प्रत्याशियों में करोड़पतियों का प्रतिशत 83.4 है, जबकि कांग्रेस के 83.1 फीसदी प्रत्याशी करोड़पति हैं. बसपा के 129 प्रत्या​शी करोड़पति हैं लेकिन यह उसके कुल प्रत्याशियों का 33.8 फीसदी है. इस तरह परसेंट के हिसाब से देखें तो बसपा के पास सबसे कम करोड़पति हैं.

Leave a comment