बालाकोट एयरस्ट्राइक के एक साल: श्रीनगर में वायुसेना प्रमुख ने मिग-21 से भरी उड़ान

51 स्क्वाड्रन से आने वाले विंग कमांडर अभिनंदन ने 27 फरवरी को भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तान के एक एफ-16 को मार गिराया था. एफ-16 का पीछा करते हुए अभिनंदन के मिग 21 बाइसन पर भी हमला हो गया था. उन्हें पाकिस्तानी सेना ने हिरासत में ले लिया था और अगले दिन ही रिहा कर दिया था.

  • 51 स्क्वाड्रन ने की थी बालाकोट एयरस्ट्राइक
  • मिराज 2000 विमान भी हो सकते हैं शामिल

बालाकोट एयरस्ट्राइक की पहली बरसी पर बुधवार को वायु सेना प्रमुख (एयर चीफ मार्शल) आरएसके भदौरिया ने श्रीनगर में मिग-21 में उड़ान भरी. वायु सेना प्रमुख ने 51 स्क्वाड्रन के साथ मिग-21 बाइसन में उड़ान भरी. 51 स्क्वाड्रन वही यूनिट है जिसने बालाकोट एयरस्ट्राइक को अंजाम दिया था. उस वक्त सुर्खियों में आए विंग कमांडर अभिनंदन इसी यूनिट से जुड़े थे और वे मिग-21 बाइसन उड़ा रहे थे.

वायुसेना प्रमुख आरएसके भदौरिया 28 फरवरी को दिल्ली में डीआरडीओ भवन में एक सेमिनार को संबोधित करेंगे. इस सेमिनार का शीर्षक है-इंडियन एयर फोर्स: नो वॉर, नो पीस. भदौरिया इस सेमिनार में बालाकोट एयरस्ट्राइक के बारे में जानकारी दे सकते हैं. उस दिन वायुसेना ने किस प्रकार अपनी कार्रवाई को अंजाम तक पहुंचाया था, वे इस पर प्रकाश डाल सकते हैं.

बता दें, बालाकोट एयरस्ट्राइक के वक्त वायुसेना की कमान बीएस धनोओ संभाल रहे थे. उस वक्त पाकिस्तान को दिए करारे जवाब पर धनोआ ने बुधवार को समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, एक साल बीत गए और जब हम पीछे देखते हैं तो हमें संतुष्टि होती है. बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद हमें बहुत कुछ सीखने को मिला है, कई चीजें उसके बाद अमल में लाई गई हैं. धनोआ ने कहा, उस घटना के बाद मूल रूप से हमारे कामकाज के तरीके में एक बदलाव आया है. दूसरे पक्ष ने कभी नहीं माना कि हम पाकिस्तान के अंदर आतंकी प्रशिक्षण शिविर पर हमला कर सकते हैं लेकिन हमने इसे समफलतापूर्वक कर के दिखाया.

Leave a comment