प्लेकार्ड के साथ वेल में आने पर ओम बिड़ला की चेतावनी, पूरे सत्र के लिए कर दूंगा निलंबित

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कहा कि वे सांसदों को सदन में प्लेकार्ड और पोस्टर नहीं लाने देंगे. उन्होंने कहा कि विपक्ष ये साफ करे कि क्या वे प्लेकार्ड के साथ सदन में आना चाहते हैं. आप अगर प्लेकार्ड के साथ संसद चलाना चाहते हैं तो आप घोषणा करिए.

  • मंगलवार को भी लोकसभा में दिल्ली हिंसा पर हंगामा
  • स्पीकर ओम बिड़ला ने दी निलंबित करने की चेतावनी

संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण के दूसरे दिन भी लोकसभा और राज्यसभा में दिल्ली हिंसा को लेकर हंगामा हुआ. कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस सांसदों ने नारेबाजी की. सांसदों के हंगामे से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला खासा नाराज दिखे. स्पीकर ने सांसदों को वेल में नहीं आने की चेतावनी दी, साथ ही उन्होंने कहा कि अगर वे ऐसा करते हैं तो उन्हें पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया जाएगा.

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि वे सांसदों को सदन में प्लेकार्ड और पोस्टर नहीं लाने देंगे. उन्होंने कहा कि विपक्ष ये साफ करे कि क्या वे प्लेकार्ड के साथ सदन में आना चाहते हैं. आप अगर प्लेकार्ड के साथ संसद चलाना चाहते हैं तो आप घोषणा करिए. आप कहिए कि प्लेकार्ड लेकर संसद में आना चाहते हैं, मैं इजाजत दूंगा.

सोमवार को हुई धक्का-मुक्की पर उन्होंने कहा कि क्या आप सदन को ऐसे ही चलाना चाहते हैं. वहीं, विपक्ष के सांसद हंगामा करते रहे, जिसके बाद स्पीकर ने कार्यवाही को 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया.

बता दें कि सोमवार को लोकसभा की कार्यवाही के दौरान विपक्ष के कुछ सांसद 'गृह मंत्री इस्तीफा दो' के प्लेकार्ड के साथ वेल तक पहुंच गए थे. वहीं बीजेपी और कांग्रेस सांसदों में धक्का-मुक्की की भी घटना हुई थी.

अधीर रंजन का सरकार पर निशाना

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि दिल्ली में लाश की कतार बढ़ रही है. इस विषय को उठाने का अधिकार हमें है. हम आपसे (लोकसभा अध्यक्ष) गुजारिश करते हैं आप इसपर चर्चा कराएं. सरकार चर्चा से भाग रही है.

लोकसभा में हुई धक्का-मुक्की

लोकसभा में सोमवार को बीजेपी और कांग्रेस सांसदों में धक्का-मुक्की हुई. ये तब हुआ जब कांग्रेस सांसद 'गृह मंत्री इस्तीफा दो' के बैनर के साथ ट्रेजरी बेंच तक जाने की कोशिश कर रहे थे. बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी और कुछ और बीजेपी सांसदों ने उन्हें रोकने की कोशिश की.

हंगामे के कारण लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने कार्यवाही को स्थगित कर दिया. हालांकि, इसके बाद भी सांसदों में भिड़ंत जारी रही. ये करीब 10 मिनट तक चलता रहा. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और रविशंकर प्रसाद ने मामला सुलझाने का प्रयास किया.

जिस वक्त ये सब कुछ हो रहा था, उस दौरान पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी समेत वहां मौजूद सांसद पूरी घटना को देख रहे थे. वहीं केरल से कांग्रेस की सांसद राम्या हरिदास ने गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला सांसद ने कहा कि जसकौर मीणा ने उनके साथ मारपीट की. जसकौर मीणा बीजेपी की सांसद हैं.

Leave a comment