मथुरा पुलिस ने किया सड़क दुर्घटना में मारे गए सिपाही की बेटी का कन्यादान, दिए छह लाख रुपये

 उत्तर प्रदेश में मथुरा जिले के पुलिसकर्मियों ने अपने साथी की सड़क दुर्घटना के दौरान मृत्यु हो जाने के बाद उसकी बेटी की शादी में कन्यादान करने के लिए छह लाख 21 हजार रुपए जुटाये हैं.

 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया,"वृन्दावन थाना क्षेत्र की रिपोर्टिंग पुलिस चौकी के जैंत क्षेत्र में 23 अप्रैल की रात दिल्ली-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर अपराधियों का पीछा करते समय प्रधान आरक्षी विजयनाथ सिंह चौहान की बाइक में किसी ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी थी. इस दुर्घटना में उनकी मौत हो गई."

 

 

 

मूल रूप से फिरोजाबाद के निकाऊ गांव निवासी विजयनाथ चौहान अपनी बड़ी पुत्री प्रीति की शादी मथुरा के ही आझई खुर्द निवासी पीएसी (प्रांतीय सशस्त्र बल) सिपाही वीरपाल के इंजीनियर पुत्र उमेश पाल से आज ही के दिन करने के लिए तय कर चुके थे.

 

बेटी की शादी तय करने के बाद वे तैयारियों में जुटे हुए थे और अपनी बेटी की विदाई का सपना देख रहे थे, लेकिन वह खुद इस सपने को पूरा नहीं कर पाए. इसलिए अब साथी पुलिसकर्मी उनकी बेटी को कन्यादान के रूप में नकद राशि की सहायता देने उनके विवाह समारोह में जा रहे हैं..

एसपी (सिटी) राजेश कुमार सिंह ने बताया, ‘हैड कांस्टेबल विजय नाथ चौहान की बेटी की शादी में आर्थिक मदद के लिए वृन्दावन थाने के स्टाफ ने, जहां वे हालिया तौर पर तैनात थे, दो लाख 21 हजार रुपये और मथुरा के पुलिस स्टाफ ने कुल चार लाख रुपए जुटाए हैं.’

Leave a comment