पाकिस्तान में अराजक तत्वों ने मंदिर और पवित्र पुस्तकों को किया आग के हवाले

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। अराजक तत्वों ने मंदिर में भगवान की मूर्तियों और पवित्र पुस्तकों को आग के हवाले कर दिया। इस घटना पर प्रधानमंत्री इमरान खान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया। लेकिन अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। समा टीवी के अनुसार, सिंध के खैरपुर जिले के कुंभ कस्बे में पिछले सप्ताह यह घटना हुई। मंदिर में तोड़फोड़ करने के बाद अज्ञात हमलावर फरार हो गए। इस घटना को लेकर इलाके में रहने वाले हिंदुओं ने विरोध प्रदर्शन किया। यह मामला सामने के बाद प्रधानमंत्री इमरान ने मंगलवार रात ट्विटर पर लिखा, सिंध की सरकार को दोषियों के खिलाफ त्वरित और सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। यह घटना कुरान की तालीम के खिलाफ है।

पाकिस्तान हिंदू काउंसिल के सलाहकार राजेश कुमार हर्दासानी ने हिंदू मंदिरों की सुरक्षा के लिए विशेष कार्यबल बनाए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा, इस घटना से हिंदू समुदाय में नाराजगी है। इस तरह का हमला देश में धार्मिक भाईचारे को खराब करने का प्रयास है। इससे पहले अभी कुछ दिन पहले ही मुस्लिम बहुल बांग्लादेश में भी इस तरह की घटना सामने आयी थी।स्थानीय मीडिया के अनुसार, तंगेल जिले के बात्रा गांव में बीते शुक्रवार को आठ-नौ लोगों के एक दल ने मंदिर में तोड़फोड़ की और मंदिर बनवाने वाले चित्तरंजन के परिवार पर भी हमला किया था। बदमाश स्थानीय लोगों की मदद से उस जगह को हथियाना चाहते थे जहां मंदिर बना है। इसी वजह से उन्होंने हिंदू परिवारों पर हमला कर उनके घर को भी तहस-नहस कर दिया।

Leave a comment