योगी सरकार की माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश सरकार की कार्रवाई से माफियाओं और गैंगस्टर्स में हड़कंप मच गया है। चाहे वह मुख्तार अंसारी हो या फिर अतीक अहमद सब के ऊपर योगी सरकार का शिकंजा कसता ही जा रहा है।उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बाहुबली विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी और पूर्व सांसद अतीक अहमद सहित कई माफियाओं पर कार्रवाई की है।यूपी सरकार ने इन कुख्यात माफियाओं की अवैध संपत्ति या तो जब्त कर ली है या फिर इनके अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलवा दिया है। मऊ पुलिस की नजर लगातार मुख्तार अंसारी गिरोह के शूटरों द्वारा बनाई गई अवैध संपत्ति पर भी थी। 6 जुलाई को शूटर बृजेश सोनकर की 60 लाख की संपत्ति को पुलिस ने उसके मोहल्ले में जाकर कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू की।मऊ जनपद सहित पूरे पूर्वांचल में मुख्तार अंसारी का एक बड़ा मछली गिरोह दशकों से काम कर रहा था। इस गिरोह के लोग अवैध रूप से अन्य प्रदेशों से मछली लाकर बेचा करते थे।

26 और 27 अगस्त को अतीक अहमद की साठ करोड़ की सात संपत्तियों को पुलिस ने जब्त करने की कार्रवाई की है। जिसमें खुल्दाबाद स्थित चकिया मोहल्ले में स्थित 02 मकान जिसकी बाजार कीमत लगभग 2.5 करोड़ रुपये, कालिन्दीपुरम स्थित 02 मकान जिसकी कीमत करीब 2.5 करोड़ रुपये और थाना सिविल लाइन एमजी मार्ग स्थित मकान जिसकी कीमत करीब 20 करोड़ रुपये है।सात सितंबर को अतीक अहमद की एक अवैध बिल्डिंग पर प्रशासन का बुलडोजर चला, जिसमें पांच सौ वर्ग गज में नजूल भूमि बने अवैध निर्माण को भी पुलिस और प्रशासन की मदद से पीडीए ने ध्वस्त कर कब्जा में ले लिया

Leave a comment