वसंत पंचमी के दिन भूलकर भी न करें माँ सरस्वती को नाराज...

लखनऊ : वसंत पंचमी  का दिन मां सरस्वती की पूजा का विशेष दिन है। मां सरस्वती को विद्या एवं बुद्धि की देवी माना जाता है। वसंत पंचमी के दिन उनसे विद्या, बुद्धि, कला एवं ज्ञान का वरदान मांगा जाता है। इस साल बसंत पचंमी का त्योहार 10 फरवरी को मनाया जाएगा। लेकिन इस दिन भूलकर भी कुछ गलतियां नहीं करनी चाहिए: वसंत पंचमी  का दिन मां सरस्वती की पूजा का विशेष दिन है। मां सरस्वती को विद्या एवं बुद्धि की देवी माना जाता है। वसंत पंचमी के दिन उनसे विद्या, बुद्धि, कला एवं ज्ञान का वरदान मांगा जाता है। सरस्वती मां को ज्ञान, कला और संगीत की देवी कहा जाता है। मान्यता है कि बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करने से बुद्धि और ज्ञान बढ़ता है। इस दिन स्नान का भी खास महत्व माना जाता है। लेकिन बसंत पंचमी के दिन कुछ कार्यों को वर्जित माना जाता है। लेकिन इस दिन भूलकर भी कुछ गलतियां नहीं करनी चाहिए-

1.वसंत पंचमी के दिन काले रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए। इस दिन पीले वस्त्र धारण करना शुभ माना जाता है।

2.वसंत पंचमी के दिन मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। संभव हो तो आज के दिन स्नान और पूजा के बाद सात्विक भोजन ग्रहण करना चाहिए।

3.वसंत पंचमी के दिन किसी से वाद-विवाद या क्रोध नहीं करना चाहिए। बसंत पंचमी पर कलह होने से पिता को कष्ट पहुंचता है।

4.वसंत पंचमी के दिन बिना नहाए कुछ भी नहीं खाना चाहिए। इस दिन नदी, सरोवर या पास के तालाब में स्नान करना चाहिए और मां सरस्वती की पूजा अराधना के बाद ही कुछ खाना चाहिए।

5.वसंत पंचमी के दिन भूल से भी पेड़-पौधों की कटाई नहीं करनी चाहिए।

Leave a comment