चेन्नई में बूंद-बूंद को तरसे लोग, AIADMK के खिलाफ DMK करेगी प्रदर्शन

पानी की भयंकर कमी से जूझ रही तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में आज विपक्षी दल डीएमके विरोध-प्रदर्शन करेगी. सत्ताधारी एआईएडीएमके का ध्यान पानी की समस्या पर दिलाने के लिए डीएमके चीफ एमके स्टालिन ने पार्टी को विरोध-प्रदर्शन का ऐलान किया है. इस प्रदर्शन में डीएमके कैडर्स के अलावा आम जनता भी हिस्सा लेगी. यह शांतिपूर्ण प्रदर्शन 10 बजे शुरू होगा.

डीएमके ने आरोप लगाया कि पूरे तमिलनाडु में लोग पीने के पानी की कमी से जूझ रहे हैं. राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए डीएमके ने इसे लापरवाही और 'प्रशासनिक विफलता' बताया. विपक्षी पार्टी ने कहा कि एआईएडीएमके जल्द से जल्द पानी की कमी की समस्या को दूर करे.

डीएमके की ओर से जारी रिलीज में पार्टी के जिला सचिवों को सभी जिला हेडक्वॉटर्स पर आम जनता के समर्थन से विरोध-प्रदर्शन आयोजित करने को कहा गया है. तमिलनाडु में बोरवेल और कुएं सूख चुके हैं. जिसके चलते लोगों को प्राइवेट वाटर टैंकर ऑपरेटर्स की मदद लेनी पड़ रही है.

डीएमके ने आरोप लगाया कि पानी की कमी के कारण कई स्कूलों और रेस्टोरेंट्स को बंद करना पड़ा. वहीं कई आईटी कंपनियों ने अपने कर्मचारियों से घर से काम करने को कहा है. पार्टी का आरोप है कि एआईएडीएमके सरकार स्थिति पर आंख मूंदे बैठी है और अपना काम करने में विफल रही है. पानी की भयंकर कमी पर राज्य सरकार ने मंगलवार को कहा कि सूखे और मॉनसून में देरी के कारण ग्राउंड वाटर और नीचे चला गया. वहीं मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने कहा कि यह मुद्दा उतना बड़ा नहीं है, जितना मीडिया ने बना दिया है.

Leave a comment