कोरोना, भारत-चीन विवाद का शेयर बाजार पर दिख सकता है असर

शेयर बाजार के लिए बीता हफ्ता मिला-जुला रहा, लेकिन अगले हफ्ते भारतीय बाजारों पर वैश्विक संकेतों, चीन से तनाव और कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों का असर दिख सकता है.

विश्लेषकों का मानना है कि आगामी कारोबारी सप्ताह के दौरान बाजार पर भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों के रिश्तों में आई खटास का असर देखने को मिल सकता है. साथ ही, निवेशकों की नजर देश-विदेश में इस सप्ताह जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों पर बनी रहेगी, जिनसे बाजार को दिशा मिलेगी.

कई आंकड़े होंगे जारी  जुलाई के पहले हफ्ते में ऑटो कंपनियों की बिक्री के आंकड़े आने लगेंगे. जबकि एक जुलाई यानी बुधवार को ही जून महीने के खरीद प्रबंध सूचकांक (पीएमआई) से संबंधित आंकड़ों जारी हो सकते हैं. इससे पहले मंगलवार को देश की प्रमुख पेट्रोलियम कंपनी ओएनजीसी बीते वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के अपने वित्तीय नतीजे जारी करेगी.

उधर, चीन में जून महीने के एनबीएस मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई के आंकड़े मंगलवार को जारी होंगे जबकि अमेरिका में जून महीने के आंकड़े बुधवार को जारी होंगे. अमेरिका में गैर-कृषि क्षेत्र में जून महीने के रोजगार के आंकड़े भी इस हफ्त गुरुवार को जारी होंगे.

भारत में कोरोना के बढ़ते मामले  इसके अलावा भारत और अमेरिका में कोरोना का संकट लगातार बढ़ता जा रहा है. भारतीय शेयर बाजार में इसका भी असर होगा. इससे पहले बीते शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह की क्लोजिंग के मुकाबले 439.54 अंकों यानी 1.27 फीसदी की तेजी के साथ 35,171.27 पर बंद हुआ.

Leave a comment