मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यू.पी को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य, भर सकते हैं दुनिया का पेट।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सामने अब एक नया लक्ष्य रख दिया है. केंद्र सरकार अब देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनोमी बनाने पर काम कर रही है. पीएम के इस मिशन को पूरा करने में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पूरे जोर-शोर के साथ जुट गए हैं. सोमवार को एक कार्यक्रम में यूपी सीएम ने कहा कि उन्होंने टारगेट रख लिया है कि हम उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर की इकॉनोमी बनाने पर आगे बढ़ेंगे.

अयोध्या के नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब मैंने उत्तर प्रदेश को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का टारगेट रखा तो लोगों ने कहा कि आप क्या बोल रहे हैं, लेकिन मैंने कहा कि हम ये करके दिखाएंगे.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने अगले कुछ वर्षों में देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का टारगेट रखा है, ये सिर्फ केंद्र सरकार का कर्तव्य नहीं है. हमारी सरकार भी इस मिशन में जुटी है, आज अगर देश का हर पांचवां व्यक्ति यूपी में रहता है तो हमारा लक्ष्य है कि यूपी को 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाएं’.

 
इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि यूपी में जितनी कृषि भूमि और जल संसाधन है उसका यदि हम व्यवस्थित रूप से उपयोग कर लें, तो अकेला उत्तर प्रदेश अपनी उर्वरा भूमि पर उत्पादन कर पूरी दुनिया का पेट भर सकता है. इसी से यूपी की अर्थव्यवस्था 1 ट्रिलियन डॉलर बनाने की योजना है.

अपने संबोधन के दौरान योगी आदित्यनाथ बीच में रुके और उन्होंने आगरा में बस दुर्घटना में मृत यात्रियों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए पीड़ित परिवार के साथ खड़े होने और हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया.

गौरतलब है कि 5 जुलाई को पेश हुए बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने न्यू इंडिया के सपने और 5 ट्रिलियन डॉलर के टारगेट का खांचा पेश किया. प्रधानमंत्री की अगुवाई में पूरी केंद्र सरकार लगातार 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी पर बात कर रही है.

Leave a comment