हरियाणा में बीयर हुई सस्ती, गुरुग्राम-फरीदाबाद और पंचकूला में रात एक बजे तक खुलेंगे पब

हरियाणा में अब पांच रुपये तक बीयर सस्ती मिलेगी। मौजूदा ब्रांड के साथ-साथ अब सुपर माइलड बीयर की बिक्री भी ठेकों पर होगी। इस बीयर में एल्कोहल की मात्रा अपेक्षाकृत कम रहेगी। इसके साथ ही अब देसी और अंग्रेजी शराब भी तीन रुपये तक महंगी मिलेगी। जबकि घटिया शराब की बिक्री पर सरकार ने पूरी तरह से बैन लगाने की तैयारी कर ली है।सोमवार को हरियाणा सरकार की मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता वाली मंत्रीमंडल की बैठक में नई आबकारी नीति 2020-21 को स्वीकृति दे दी है। ये पॉलिसी 1 अप्रैल से लागू होगी। इसके अंतर्गत सरकार ने ये निर्णय लिया है कि प्रदेश में अब घटिया शराब की बिक्री पूरी तरह बैन रहेगी। यानी कोई भी शराब कारखाना 900 रुपये से कम थोक रेट पर आईएमएफएल (इंडियन मेड फॉरन लिकर) शराब की पेटी (12 बोतल वाली) नहीं बेच पाएगा। पहले यही अंग्रेजी शराब सस्ते में बिकती थी, जिसकी क्वालिटी को लेकर कई बार शिकायतें रहती  थी।इसी तरह अब शराब कारखानों में देसी शराब का कोटा भी 40 फीसद से घटाकर 20 फीसद तक कर दिया गया है। यानी शराब कारखाने जो देसी शराब बनाते थे। प्रदेश का एक्साइज विभाग उसका 40 फीसद कोटा ठेकों पर जरूर बिकवाता था। मगर अब ये कोटा 20 फीसद कर दिया गया है और अगले साल इसे पूरी तरह खत्म कर दिया जाएगा। यानी अब शराब कारखानों को अपनी देसी शराब अपनी क्वालिटी के दम पर ही बिकवानी पड़ेगी।नई एक्साइज पॉलिसी के अंतर्गत तीन जिलों गुुरुग्राम, फरीदाबाद और पंचकूला में पब व बार रात्रि एक बजे तक  खुले रहेंगे। इनके साथ लगते इलाकों दिल्ली और चंडीगढ़ में देर रात तक खुलने वाले पब व बार में स्थानीय लोगों के बढ़ते क्रेज के चलते ये फैसला लिया गया है। एक्साइज पॉलिसी के अंतर्गत ये निर्णय ये लिया गया है कि यदि कोई व्यक्ति किसी मॉल में वाइन शॉप खोलना चाहता है तो उसकी परमिट फीसद 10 लाख होगी। बशर्ते इस वाइन शॉप में केवल विदेशी महंगी शराब ही बिकेगी। साल में इस तरह के परमिट केवल 30 ही जारी किए जाएंगे।नई एक्साइज पॉलिसी के अंतर्गत शराब कारखानों में बनने वाली शराब की एक-एक बूंद पर अब सरकार की नजर रहेगी। शराब की क्वालिटी कैसी है, उसमें एल्कोहल की मात्रा निर्धारित मानकों के अनुसार हैया नहीं, इसकी जांच के लिए ‘फ्लो मीटर’ लगाए जाएंगे। दूसरा, शराब कारखानों से शराब की अवैध तस्करी तो नहीं हो रही, उसके लिए ट्रैक एंड ट्रेस सिस्टम भी लागू होगा।

Leave a comment