दिल्ली हिंसा के बाद अब अमन की कोशिशें, सुरक्षाबल खुलवा रहे दुकान

दिल्ली में नागरिकता संशोधन एक्ट के नाम पर हुई हिंसा में अबतक 32 लोगों की जान जा चुकी है. अब तीन दिन के बाद हिंसा तो थम गई है और लोगों को आशा है कि जल्द ही अमन लौटेगा.

  • राजधानी दिल्ली में हिंसा थमी, अब शांति
  • अबतक 32 की मौत, 150 से अधिक घायल
  • अजित डोभाल ने सड़कों पर लोगों से की बात
  • पीएम नरेंद्र मोदी ने शांति की अपील की

देश की राजधानी दिल्ली में रविवार के बाद हुई हिंसा अब थम गई है. बुधवार को दिल्ली में हिंसा की कोई बड़ी घटना नहीं हुई है, लेकिन शहर में अभी भी अजीब-सी शांति है. और हर किसी को आशा है कि दिलवालों की दिल्ली में अमन जल्द ही लौटेगा. दिल्ली में हिंसा में हुई मौतों का आंकड़ा बढ़ गया है और गुरुवार सुबह तक 32 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. हाई कोर्ट की फटकार के बाद केंद्र और राज्य सरकार एक्शन में आई है, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर दिल्ली की सड़कों पर उतर लोगों से बात की और उन्हें भरोसा दिलाया.

11.40 AM: कांग्रेस पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल अब से कुछ देर में राष्ट्रपति से मुलाकात करेगा. इस डेलिगेशन में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत पार्टी के अन्य नेता शामिल होंगे.

11.32 AM: आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन पर लग रहे आरोपों पर पार्टी सांसद संजय सिंह ने बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हम पहले दिन से कह रहे हैं कि हिंसा के लिए जो भी जिम्मेदार है, उसपर एक्शन लिया जाना चाहिए. अगर किसी के खिलाफ सबूत मिलते हैं, तो एक्शन जल्द से जल्द होना चाहिए.

Leave a comment