दिवान पलंग के अंदर मिली महिला की 7 महीने पुरानी लाश, फ्लैट में मची अफरा-तफरी

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अपराध का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां विद्यानगर के बीडीए कॉम्प्लेक्स फ्लैट में एक महिला की करीब 7 महीने पुरानी लाश मिलने से रविवार दोपहर विल्डिंग में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। महिला की लाश को एक रजाई में लपेटकर लकड़ी के दीवान पलंग में रखा गया था। फिर उपर से पुराने कपड़े रखकर दीवान बंद कर दिया। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस ने बताया कि लाश संभवत:फ्लैट में रहने वाली और सड़क परिवहन निगम में क्लर्क रह चुकी विमला की है। पड़ोसियों ने बताया कि उनका 31 साल का बेटा भी साथ रहता था और वह भी 6 महीने से गायब है। लाश का पता तब चला जब फ्लैट के वर्तमान मालिक रामवीर सिंह का बेटा अपने रिश्तेदार धर्मेन्द्र सिंह और 2 मजदूरो के साथ पजेशन लेने के लिए पहुचां। जब उन्होंने फ्लैट का ताला खोला तो वहां बदबू आ रही थी। फिर हॉल में रखे दीवान को खोला तो उसमें कुछ कपड़े पड़े थे। कपड़े हटाने पर रजाई में लिपटी हुई एक लाश मिली। उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। इसी आधार पर माना जा रहा है कि जो शव दीवान में मिला है वह विमला का ही है। मां के इलाज के लिए अमित इधर-उधर उधारी मांगा करता था। मां की ऐसी हालत देखकर अमित भी उन दिनों डिप्रेशन में चल रहा था। दूसरी मंजिल पर बना ये फ्लैट विमला के नाम पर था। पति की मौत के बाद विमला यहां बेटे अमित के साथ रहती थीं। कर्जे के चक्कर में अमित ने 2 जून 2018 में फ्लैट रामवीर को बेच दिया था। तब से अमित फ्लैट में नहीं गया था।

रामवीर सिंह ने कहा कि 2 जून 2018 को इस 1 बीएचके फ्लैट की रजिस्ट्री बीडीए से करवाई थी। रजिस्ट्री के करीब 15 दिन पहले मेरा बेटा विमला के घर जाकर उनकी सहमति ले आया था। फ्लैट का सौदा 6 लाख में हुआ था। ढाई लाख अमित को और बाकी रकम बीडीए को अदा कर दी थी। इसके बाद से ही अमित पजेशन नहीं दे रहा था।

Leave a comment