wbresults.nic.in, WBCHSE HS result 2020 Updates: बंगाल 12वीं बोर्ड के नतीजे घोषित

West Bengal Council of Higher Secondary Education (WBCHSE) ये नतीजे घोषित कर दिए हैं. इस साल 90.13 परसेंट छात्र पास हुए हैं. बोर्ड के मुताबिक यहां कुल 30,220 छात्रों ने 90 परसेंट से ज्यादा नंबर प्राप्त किए हैं. WB HS result 2020 में कोलकाता नंबर एक पर है. वहीं, मिदनापुर दूसरे स्थान पर और पूर्वी मिदनापुर तीसरे स्थान पर रहा है.

सबसे अच्छा रिजल्ट साइंस स्ट्रीम का रहा है, जिसमें 98.83 परसेंट पास हुए हैं. कॉमर्स स्ट्रीम में छात्रों का पास परसेंटेज 92.22 फीसदी रहा है. वहीं, आर्ट्स में 88.74 फीसदी बच्चे पास हुए हैं. बता दें कि इस साल 7,75,364 छात्रों ने 12वीं की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था जिसमें 7,61,583 छात्र परीक्षा में बैठे थे. इसमें से 6,80,057 छात्र पास हुए हैं.

500 में 499 नंबर लाकर बना टॉपर

पिछले साल के मुकाबले इस साल का रिजल्ट बेहतर रहा है. 2019 में WB HS result 86.29 फीसदी रहा था, जो इस बार 3.84 परसेंट की ग्रोथ के साथ 90.13 परसेंट रहा है. बोर्ड से मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिम बंगाल 12वीं की परीक्षा में एक बच्चे के सबसे ज्यादा 99.08 परसेंट मार्क्स मिले हैं. इस टॉपर ने 500 में से 499 नंबर प्राप्त किए हैं.

राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने छात्रों को रिजल्ट के लिए शुभकामनाएं दी हैं.

नतीजों को आधिकारिक वेबसाइट wbchse.nic.in पर चेक किया जा सकेगा. स्कोर दोपहर 4 बजे से वेबसाइट्स पर चेक किया जा सकेगा.

 

WBCHSE class 12th results इन वेबसाइट्स पर करें चेक

> wbchse.nic.in

> wbresults.nic.in

> exametc.com

> results.shiksha

> westbengal.shiksha

> westbengalonline.in

West Bengal 12th Results 2020 चेक करने का तरीका

> WBCHSE की आधिकारिक वेबसाइट wbchse.nic.in पर जाएं.

> वेबसाइट पर मौजूद West Bengal 12th Result 2020 के लिंक को क्लिक करें

> यहां अपना रोल नंबर सब्मिट करते ही आपको रिजल्ट दिख जाएगा.

> रिजल्ट को डाउनलोड कर लें. एक कॉपी प्रिंटआउट भी रख लें.

करीब 8 लाख स्टूडेंट्स को इन नतीजों का इंतजार था. कोविड 19 के प्रकोप की वजह से इस साल मेरिट लिस्ट जारी नहीं किया जाएगा. इससे पहले, बुधवार को बोर्ड ने 10वीं के नतीजे घोषित किए थे.

Class 12 exam पास करने के लिए स्टूडेंट्स को सभी अनिवार्य विषयों में पास करना अनिवार्य रखा गया था और कम से कम 30 प्रतिशत स्कोर हासिल करना था. जो छात्र ऐसा नहीं कर सकेंगे, उनके लिए बोर्ड सप्लीमेंट्री एग्जाम कराएगा.रिजल्ट घोषित होने के बाद पास हुए स्टूडेंट्स को अपने स्कूलों से ओरिजनल मार्कशीट हासिल करना होगा. बता दें कि 12वीं की परीक्षाएं इस साल मार्च में हुई थीं. कोरोना और लॉकडाउन की वजह से कुछ परीक्षाएं नहीं हो पाईं. इन्हें जुलाई में करवाने की योजना थी, लेकिन बाद में इन्हें रद्द कर दिया गया.

WBCHSE के मुताबिक छात्रों को 31 जुलाई से स्कूल से मार्कशीट मिल सकेगी. इससे पहले सभी स्कूलों को सैनिटाइज किया जाएगा. बता दें कि WBCHSE ने 12वीं की परीक्षा के तहत 37 विषयों की परीक्षा का आयोजन किया था.

Leave a comment