VHP ने किया SC के फैसले का स्वागत

सुप्रीम कोर्ट की ओर से अयोध्या मालिकाना हक मामले में 9 नवंबर को दिए गए. फैसले को चुनौती देने वाली सभी पुनर्विचार याचिकाएं को खारिज किए जाने का (VHP) ने स्वागत किया है. जहां उन्होंने इस घटनाक्रम पर खुशी जताते हुए कहा कि अब मंदिर नगरी में जल्दी ही भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा. वहीं अयोध्या में अस्थाई राम मंदिर के मुख्य पुजारी महंत सत्येंद्र दास ने कहा, ‘शीर्ष कोर्ट ने एक बार फिर ऐतिहासिक फैसला दिया है. सुप्रीम कोर्ट के दिए गए फैसले को चुनौती देने की कोई जरूरत नहीं थी. मैं समझता हूं राम मंदिर निर्माण के लिए शीघ्र ट्रस्ट बनेगा और करोड़ों हिन्दुओं का भव्य राम मंदिर देखने का सपना पूरा होगा. साथ ही अयोध्या के प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर के पुजारी महंत राजू दास ने कहा, ‘मुस्लिम पक्षों की ओर से दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं का कोई आधार नहीं था. संत समुदाय सुप्रीम कोर्ट के इस एक और फैसले का स्वागत करता है. अयोध्या पर फैसले के बाद देश में शांति और कौमी सौहार्द है. इसी में बाधा डालने के मकसद से पुनर्विचार याचिकाएं दाखिल की गई.’ वहीं निर्मोही अखाड़ा से जुड़े महंत धीरेंद्र दास ने शांतिपूर्ण माहौल में मंदिर निर्माण किए जाने पर जोर दिया.

Leave a comment