नेपाल के प्रधानमंत्री ओली का एलान

नेपाल में भारत के नए मानचित्र को लेकर जारी विरोध-प्रदर्शनों के बीच प्रधानंत्री केपी ओली ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की शाखा, नेशनल यूथ एसोसिएशन की पहली बैठक को संबोधित करते हुए ओली ने कहा, हम नेपाल की हर इंच भूमि की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं. सरकार देश की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने में सक्षम है. केपी ओली ने कहा कि, नेपाल, भारत और तिब्बत के बीच ट्राइजंक्शन में स्थित कालापानी क्षेत्र नेपाल का हिस्सा है और भारत को वहां से अपनी सेना तुरंत हटा लेनी चाहिए. केपी ओली ने कहा कि, नेपाल दूसरों की जमीन पर एक इंच अतिक्रमण नहीं करेगा और अपने क्षेत्र का एक इंच हिस्सा दूसरों को नहीं देगा. हम भारतीय सुरक्षाबलों को कालापानी से हटाएंगे. नेपाल की जमीन पर नेपाली सेना रहेगी. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस समस्या का हल आपसी बातचीत से निकाला जा सकता है.

Leave a comment