कमलेश तिवारी हत्याकांड में खुलासा

लखनऊ : कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस को एक और सफलता हाथ लगी है. कमलेश तिवारी के हत्यारे जिस होटले में ठहरे थे. वहां से पुलिस ने दोनों के सामान बरामद किए हैं. दोनों हत्यारे लखनऊ के ही नाका थाना क्षेत्र के खालसा इन होटल में ठहरे थे. जहां से पुलिस ने भगवा कपड़े और बैग बरामद किए थे. वहीं बरामद कपड़ों पर खून भी लगा हुआ है.लालबाग खालसा होटल में दो संदिग्ध व्यक्ति ठहरे हुए थे. पुलिस को जैसे ही सूचना मिली फील्ड युनिट के साथ पुलिस की टीम वहां पहुंच गई. कमरे की जांच करने पर बैक के साथ कपड़े भी बरामद किए गए. मिली जानकारी के मुताबिक होटल के रजिस्टर में दर्ज नामों के मुताबिक इस होटल में शेख असफाक हुसैन और पठान मोइनुद्दीन अहमद ठहरे थे. होटल के कमरे के अंदर बनी अलमारी में बैक, लोअर, लाल रंग का कुर्ता पड़ा है. बेड़ पर भगवा रंग का कुर्ता पड़ा है. जब कपड़े को उलट कर देखा गया तो उसमें खून के धब्बे नजर आए. हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड में नई जानकारियां सामने आई हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हत्यारे गूगल मैप से कमलेश तिवारी के दफ्तर की लोकेशन तलाश खुर्शीदबाग पहुंचे थे. आरोपी वारदात को अंजाम देने के लिए ट्रेन से लखनऊ आए थे. लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन से कमलेश तिवारी के घर का पता पूछते हुए दोनों आरोपी गणेशगंज पहुंचे थे. कमलेश तिवारी मर्डर केस को क्रैक करने के लिए पुलिस की 10 टीमें लगाई गई है. गुजरात भेजी गई टीम को लखनऊ के एसपी क्राइम लीड कर रहे हैं.

Leave a comment