24 फरवरी का दिन क्रिकेट इतिहास में है यादगार ,जानिये क्यों

क्रिकेट इतिहास में 24 फरवरी का दिन बेहद खास है.इस दिन  वनडे क्रिकेट में वह कारनाम देखने को मिला जिसके बारे में शायद ही किसी ने कल्पना की थी. साल 2010 में सचिन तेंदुलकर ने आज ही के दिन  पहली बार दोहरा शतक जड़कर इतिहास रचा था.वनडे में उस समय दोहरा शतक लगाना मुश्किल समझा जाता था मगर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर नें जो शुरुआत की तब से आज तक कई बल्लेबाज वन डे में दोहरे शतक लगा चुके हैं.भारत के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा के नाम तो वनडे में तीन दोहरे शतक हैं. 

आपको बता दें कि 24 फरवरी को ही वनडे क्रिकेट इतिहास में एक बार और दोहरा शतक जड़ा गया था. इस कारण से यह तारीख अनोखी मानी जाती है. वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने भी सचिन के 200 रन बनाने के ठीक पांच साल बाद यानि साल 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ 200 रन बनाकर सचिन के साथ रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज करवाया. गेल ने जिम्बाब्वे के खिलाफ 215 रन बनाकर सचिन तेंदुलकर का सर्वाधिक रन का रिकॉर्ड तोड़ा .

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2010 में सचिन तेंदुलकर ने ग्वालियर वनडे में क्रिकेट इतिहास में पहली बार वनडे में 200 रन का व्यक्तिगत स्कोर बनाने का कारनामा किया था. क्रिकेट प्रशंसकों को उस समय सचिन से ही यह उम्मीद थी कि वो वनडे में दोहरा शतक बना सकते हैं जिसे मास्टर ब्लास्टर ने सच कर दिखाया. उस समय दक्षिण अफ्रीका की टीम भारत के दौरे पर आई हुई थी. आज ही के दिन ग्वालियर में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा वनडे खेला जा रहा था. भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था और सचिन ने अंतिम ओवर की तीसरी गेंद पर अपना स्कोर 200 पर पहुंचा कर इतिहास रचा था. इस पारी में सचिन ने केवल 147 गेंदों का सामना करते हुए 25 चौके और तीन छक्के लगाये थे.सचिन की इस पारी की बदौलत भारत ने कुल 401 रन बनाए थे. दक्षिण अफ्रीका को इस मैच में भारत के हाथों 153 रन की हार का मुंह देखना पड़ा.  सचिन तेंदुलकर इस मैच में मैन ऑफ द मैच रहे.

क्रिस गेल ने 5 साल बाद तोड़ा रिकॉर्ड


इसके ठीक पांच साल बाद क्रिस गेल ने जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलते हुए सचिन का रिकॉर्ड तोड़ा. वेस्ट इंडीज के कैनबरा में 2015 में आईसीसी क्रिकेट वर्ल्डकप में वेस्टइंडीज और जिंबाब्वे के बीच पूल बी का मैच चल रहा था.वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. दूसरी ही गेंद  पर पहला विकेट शून्य पर गंवाने के बाद क्रिस गेल ने आतिशी पारी खेलते हुए  44वें ओवर में ही 127 गेंदों में 150 रन बना दिए .गेल ने 46वें ओवर की पांचवी गेंद पर अपना दोहरा शतक पूरा किया था इस तरह उन्होंने केवल 11 गेंदों में ही अपना स्कोर 150 से 200 तक पहुंचा दिया. इस मैच में गेल ने सबसे ज्यादा 16 छक्के मारने का भी रिकॉर्ड बनाया. 

Leave a comment